कोविड की सम्भावित तीसरी लहर से तैयारी

  1. कोरोना की संभावित तीसरी लहर के दृष्टिगत सभी आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित की गईं। सभी जिला अस्पतालों, सीएससी, पीएससी में पर्याप्त संख्या में आक्सीजन, आईसीयू,वेंटिलेटर तथा बच्चों के अलग से वार्ड।
  2. उत्तराखण्ड राज्य, पूर्ण रूप से पात्र लाभार्थियों को कोविड-19 वैक्सीन की प्रथम डोज लगाये जाने वाला राज्य बन गया है।
  3. बागेश्वर और रूद्रप्रयाग जिला शतप्रतिशत पहली डोज वाला जिला बन चुका है। इसी प्रकार खिर्सू ब्लाॅक में भी शतप्रतिशत पहली डोज दी जा चुकी है।
  4. राज्य में 1945 पैडियाट्रिक आक्सीजन बैड और 739 एनआईसीयू, पीआईसीयू बैड बच्चों में कोविड मामलों के लिये चिन्हित किये गये हैं।
  5. बच्चों के लिए माइक्रो न्यूट्रिएंट की व्यवस्था की गई है। सभी सीएचसी, पीएचसी, सब सेंटर में जरूरी दवाईया उपलब्ध।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.